मामूली सी बात पर किसी का मर्डर नहीं होता,यह बात हजम नहीं हो रहा—रूपेश सिंह के भाई नंदेश्वर सिंह

मामूली सी बात पर किसी का मर्डर नहीं होता,यह बात हजम नहीं हो रहा—रूपेश सिंह के भाई नंदेश्वर सिंह

पटना–राजधानी पटना के चर्चित रूपेश हत्याकांड मामले में पटना पुलिस ने आज खुलासा कर दिया है।पटना एयरपोर्ट पर तैनात इंडिगो एयरलाइंस के स्टेशन मैनेजर रुपेश सिंह की हत्या के पीछे रोडरेज का मामला बताया जा रहा है।लेकिन अब रूपेश सिंह के परिवार ने इस पर सवाल खड़ा कर दिया है।उन्होंने कहा है कि ये बात पचने वाली नहीं है।पटना के एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने बताया कि रोडरेज के विवाद में इस हत्याकांड को अंजाम दिया गया है।हैरानी की बात है कि जिस शख्स ने इस घटना को अंजाम दिया,उसे जीवन में पहली बार गोली चलाई।

रूपेश सिंह के परिवार ने ही सवाल खड़ा कर दिया…

पटना पुलिस के खुलासे पर मृतक रूपेश सिंह के परिवार ने ही सवाल खड़ा कर दिया है।रूपेश सिंह के भाई नंदेश्वर सिंह ने कहा कि “इतनी भयानक हत्या हुई है।रोड रेज की घटना,इतनी छोटी से बात सामने आ रही है,ये बात हमलोगों को नहीं पच रही है।इतनी मामूली सी बात को लेकर इतनी बड़ी हत्याकांड को कोई अंजाम दे दे।आये दिन रोड रेज की इतनी सारी घटनाएं हो रही हैं।लेकिन इतनी बड़ी घटना को कोई अंजाम तो नहीं दे रहा है।मामूली सी बात पर किसी की हत्या तो नहीं की जा रही है।अब आगे देखिये कि पटना पुलिस आगे पड़ताल कर के क्या निकालती है।”आज पटना एसएसपी ऑफिस में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान अपराधी ऋतूराज ने बताया कि वह अपने पास एक साल से हथियार रखता था।उसने जिंदगी में पहली बार गोली चलाई थी।जब उसने रुपेश के ऊपर अंधाधुंध गोलियां बरसाईं,तो उसने देखा भी नहीं की कितनी गोली उसके रिवाल्वर से चली।मीडियाकर्मियों के सवाल का जवाब देते हुए आरोपी ऋतूराज ने बताया कि उसके साथ 3 अन्य साथी और भी थे।जो इस हत्याकांड में शामिल थे।लेकिन रुपेश के ऊपर उसी ने गोलियां बरसाईं थी।उसने ये भी बताया कि जो भी साथी उसके साथ रुपेश को मारने गए थे।उन्होंने फायरिंग की या नहीं उसने हड़बड़ी में यह भी नहीं देख पाया।

पुलिस की अलग-अलग टीमें छापेमारी भी कर रही है

आपको बता दें कि घटना के कुछ ही घंटे बाद मुख्यालय एडीजी जितेंद्र कुमार ने कहा था कि इस हत्याकांड को किसी प्रोफेशनल शूटर ने अंजाम दिया है।उन्होंने कहा था कि “रूपेश हत्याकांड का अनुसंधान चल रहा है।सभी एंगल पर जांच की जा रही है।अभी तक जो इनपुट मिले हैं,उस से लग रहा है कि पुलिस जल्द ही इस मामले का पर्दाफाश कर देगी।पुलिस की अब तक की जांच में यह भी स्प्ष्ट हो गया है कि रूपेश की हत्या सुपारी देकर प्रोफेशनल शूटर से कराई गई थी।ऐसे में एसटीएफ के साथ एसआइटी की टीम शूटरों की तलाश में लगातार इनपुट जुटा रही है।पुलिस की अलग-अलग टीमें छापेमारी भी कर रही है।”

रुपेश को छह गोलियां मारने की बात सामने आई थी

पटना के एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने कहा है कि रोडरेज को लेकर रुपेश की हत्‍या की गई।पुलिस के अनुसार रूपेश हत्‍याकांड को लेकर जानकारी मिली है कि नवम्‍बर 2020 में रोडरेज की एक घटना हुई थी।लोजपा कार्यालय के पास रुपेश की गाड़ी से बाइक चोर मरते-मरते बचा था।एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने बताया कि ऋतूराज पटना के आदर्श नगर इलाके के रोड नंबर 2 के एक मकान में रहता था।इसका ननिहाल घोषी में है।यह जहानाबाद के आस पास के रहने वाला है।उन्होंने आगे बताया कि जिस बाइक पर ऋतूराज बैठा था।उस बाइक को आलमगंज के चैलीटांड़ का रहने वाला एक दूसरा अपराधी चला रहा था।ऋतूराज अपाची बाइक पर पीछे बैठा था।इनके साथ पल्सर गाड़ी से दो अन्य अपराधी और भी थे।आपको बता दें कि इस हाईप्रोफाइल हत्‍याकांड से बिहार में कानून-व्‍यवस्‍था को लेकर लगातार गंभीर सवाल खड़े हो रहे थे।आपको बता दें कि 22 दिन पहले 12 जनवरी को पटना एयरपोर्ट से लौटकर अपने घर के बाहर गाड़ी करते ही अपराधियों ने उन्‍हें ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर मौत के घाट उतार दिया था।रुपेश सिंह अपने परिवार के साथ राजधानी पटना के पुनाईचक स्थित कुसुम विला अपार्टमेंट में रहते थे।अपार्टमेंट से इसी रास्‍ते होकर अक्‍सर रूपेश पटना एयरपोर्ट आते-जाते थे।बताया जा रहा है कि हत्‍या के दिन भी वह इसी रास्‍ते एयरपोर्ट पर अपनी ड्यूटी पूरी करने के बाद शाम को अपार्टमेंट लौट रहे थे।आपको याद हो कि रूपेश को पुनाईचक में ठीक उनके अपार्टमेंट के सामने गोली मारा गया था।बाइक सवार बदमाशों ने कार में सवार रुपेश पर ताबड़तोड़ गोलियां दागी थीं।रुपेश को छह गोलियां मारने की बात सामने आई थी।हालांकि रुपेश के शरीर पर 15 से अधिक जख्‍म के निशान मिले थे।इस हत्‍या में मुंगेर निर्मित पिस्टल का इस्‍तेमाल करने की बात सामने आई थी।

खबरें आस पास के….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page