महाशिवरात्रि के शुभ अवसर पर दर्शनार्थियों की काफी भीड़ देखी गई

अरवल (शहर तेलपा)


महाशिवरात्री के शुभ अवसर पर क्षेत्र के सभी शिवालयों में शिवभक्तों की भारी भीङ देखा गया।औरंगाबाद और अरवल जिले की सीमा पर स्थित बाबा दूधेश्वर नाथ की नगरी देवकुंड जिसे हम प्राचीन ग्रंथों में च्वनाश्रम के नाम से भी जानते हैं। महाशिवरात्रि के शुभ अवसर पर दर्शनार्थियों की काफी भीड़ देखी गई।सुबह चार बजे से ही हर हर महादेव के नारा से पूरा क्षेत्र गूंज रहा था।

महिला एवं पुरुषों की लंबी कतार लगी हुई थी

इस अवसर पर बाबा दुधेश्वर नाथ के दर्शन के लिए लगभग एक किलोमीटर तक महिला एवं पुरुषों की लंबी कतार लगी हुई थी।पौराणिक ऐसी मान्यता है कि फाल्गुन कृष्ण पक्ष त्रयोदशी के दिन ही भगवान शंकर का मां पार्वती के साथ विवाह हुआ था।इसी मान्यता के तहत देवकुंड के अलावा क्षेत्र के प्रत्येक गांव में जहां भगवान शंकर का मंदिर बना हुआ है। आज सभी महिलाएं पूरे दिन उपवास के साथ बेलपत्र,अक्षत,धतूरा,पुष्प,फल के साथ पूजा-अर्चना करती हैं। 24 घंटे तक उपवास रखकर भगवान शंकर की आराधना करती हैं और अपने पति के लिए दीर्घायु होने की कामना करती हैं।

देवकुंड में लगा पशु मेला भी आकर्षण का केंद्र रहा

इसी तरह का माहौल करपी प्रखंड के सभी शिव मंदिरों में देखा गया।रात्री में देवकुंड धाम में गाजा बाजा के साथ हाथी घोड़े भी भगवान शंकर की बारात में शामिल होंगे।जोकि काफी आकर्षण का केंद्र रहेगा।इस बारात में हजारों की संख्या में लोग पैदल चलकर हर हर महादेव का नारा लगा रहे थे।इस अवसर पर देवकुंड में लगा पशु मेला भी आकर्षण का केंद्र रहा काफी दूर-दूर से लोग इस मेला में घोड़े की खरीदारी को लेकर आए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *