मतदाताओं के खानेवाला भोजन को कुत्ते ने किया पारण,तब हुआ मतदातों को निवाला नसीब

मतदाताओं के खानेवाला भोजन को कुत्ते ने किया पारण,तब हुआ मतदातों को निवाला नसीब

पटना (फुलवारी शरीफ)

बिहार में पंचायती चुनाव का हर तरफ बिगुल बज चुका है।जिसे लेकर हर जनप्रतिनिधि अपने अपने पछ में मतदातों को लाने के लिए एवं उनका मत पाने के लिए अपने-अपने पंचायत में आये दिन अपने ऑफिस एवं गांव-कस्बों में भोज-भात एवं जलसा की दुरुस्त ब्यवस्था करते नजर आ रहें हैं।

लेकिन सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आज हम आपको एक ऐसी खबर बतागे और आप सोचने पर विबस हो जाएंगे कि जो जनता अपने चहेता मुखिया को इतना दुलार-प्यार एवं मान-सम्मान के साथ पलको पर बिठाना चाहती है।

वही मुखिया जब उस जनता को कुते से भी नीचे का दर्जा देतें हैं।तो जनता उनको क्या सम्मान दे.?

खबर बताने जा रहा हूँ वो फुलवारी प्रखंड के रामपुर-फरीदपुर पंचायत से से निकलकर आया है।जिस मे पंचायत के वर्तमान मुखिया सह मुखिया प्रत्याशी निरज कुमार उर्फ सुधीर कुमार के नॉमिनेशन से एक दिन पूर्व का है।आपको बतादें की मुखिया निरज कुमार का पंचायत के मुर्गीयचक टोला पर अपना ऑफिस है।

जहाँ दिनांक 20/10/21 की रात में पंचायत के तमाम जनता के लिए भोजनालय की व्यवस्था की गई थी।लेकिन भोजन तैयार तो हुआ था जनता के लिए लेकिन उस भोजन को जनता से पहले कुत्तों ने अपना निवाला बना लिए।ऐसा नहीं कि इस भोजन को जब कुत्ते ने खा रहा था तो मुखिया निरज कुमार के कार्यकर्ताओं ने देखा नहीं।बल्कि मुखिया के कार्यकर्ता ने फौरन ये बात मुखिया को बतलाया।

लेकिन मुखिया ने अपनी कार्यकर्ता की बात को सुनकर जो जवाब दिया उसे जानकर आप भी रह हो जाएंगे सन्न।जी हां, मुखिया ने सीधे कहा कि तुम ये बातें भूल जाओ और किसी से भी कहना भी मत और इसे जनता को चुपचाप खाने दो।उस मुखिया का नाम है निरज कुमार जिस ने अपने समर्थकों को कुता से भी बतर समझा और उसने यह कहा जब भगवान ही चाहते हैं कि जनता को यही भोजन नसीब में हो तो हम अब क्या करें।दूसरा भोजन अब कहां से मंगाये।

तो हम और तुम क्या करोगे।वाह रे मुखिया ! वाकई आप जैसा नेक मुखिया इस पंचायत को दूसरा कौन मिलेगा!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page