बिहार के एसएचओ की बंगाल में हत्या किशनगंज टाउन के एसएचओ चोर का पीछा करते हुए सीमा पार कर गए,चुनाव में असर डालने की अफवाह उड़ाकर भीड़ ने हत्या कर दी

बिहार (किशनगंज)


पश्चिम बंगाल में बिहार के सीमावर्ती किशनगंज नगर के थाना अध्यक्ष एसएचओ को पीट-पीटकर मार डाला गया।घटना शनिवार सुबह करीब 3:00 बजे तब हुई जब एसएचओ बाइक चोरों की धर पकड़ के क्रम में बिहार की सीमा से निकल पश्चिम बंगाल के इस्लामपुर् क्षेत्र में घुस गए।यह क्षेत्र किशनगंज टाउन थाना क्षेत्र के 12 किलोमीटर दूर ही है।इसलिए पुलिस टीम को अंधेरे में दूसरे राज्य की सीमा का अंदाजा नहीं लगा और अपराधियों ने बंगाल के लोगों को भड़का दिया।

यहां 22 अप्रैल को मतदान होना है

प्राप्त जानकारी के अनुसार बंगाल चुनाव में बिहार पुलिस की दखलंदाजी के बाद भड़के लोगों ने किशनगंज पुलिस टीम को घेर लिया।इस दौरान बाकी पुलिसकर्मी भागने में कामयाब रहे,लेकिन अश्विनी कुमार समझाने में फंस गए।लोगों ने उनकी एक नहीं सुनी और पीट पीट कर मार डाला।जिस जगह घटना हुई है वो बंगाल के गोलपोखर विधानसभा सीट के अंदर आता है और यहां 22 अप्रैल को मतदान होना है।आई जी का दावा-आरोपियों की जल्द होगी गिरफ्तारी।

अब तक 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया हैं


थानेदार अश्विनी कुमार पिछले महीने से टाउन थाना का प्रभार संभाल रहे थे।मोब लिंचिंग की घटना के बाद पुर्णिया आईजी सुरेश प्रसाद और किशनगंज एसपी कुमार आशीष पश्चिम बंगाल के इस्लामपुर् पहुंच गए हैं।पश्चिम बंगाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए अनुुमंडल अस्पताल भेजा जहां उनकी पोस्टमार्टम की गई।पूर्णिया के आईजी सुरेश प्रसाद ने कहा कि गोवालपोखर थाना क्षेत्र के पांतापारा गांव में माब लिंचिंग की घटना हुई है।बंगाल पुलिस की मदद से संयुक्त छापेमारी की जा रही है।जिस में अब तक 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया हैं।सभी आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की जाएगी।
अश्वनी कुमार पूर्णिया जिले के जानकीनगर थाना क्षेत्र के रहने वाले ,94 बेच के इंस्पेक्टर थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *