बिहार के आम लोग मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को नोटिस नही ले रहे है…

लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह जमुई के लोकप्रिय युवा सांसद चिराग पासवान देश के राजनीति में लोकप्रिय नेता है —-सत्येन्द्र रंजन

बिहार (अरवल)

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोक जनशक्ति पार्टी के बारे में मीडिया से बात करते हुए कहा कि हम इन सब चीजो पर नोटिस नही लेते है इस ब्यान पर तीखी प्रतिक्रिया करते हुए बिहार लोक जनशक्ति पार्टी के वरिष्ठ नेता सत्येन्द्र रंजन ने कहा कि लोकतंत्र में जनता मालिक होता है।बिहार के आम लोग मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को नोटिस नही ले रहे है।जिसका उदाहरणस्वरूप विगत बिहार विधानसभा चुनाव में 71 विधायकों की संख्या घटकर 43 पर आ गए।

भारतीय जनता पार्टी के बारे कहते है कि मिट्टी में मिल जायेंगे लेकिन भारतीय जनता पार्टी से हाथ नही मिलायेंगे

नीतीश कुमार बराबर नैतिकता और सिद्धांत की बात करते हैं,कभी प्रधानमंत्री के चेहरा हो जाते है।तो कभी भारतीय जनता पार्टी के बारे कहते है कि मिट्टी में मिल जायेंगे लेकिन भारतीय जनता पार्टी से हाथ नही मिलायेंगे।वर्ष 2014 में लोकसभा के चुनाव में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बिहार के आम जनता कितना नोटिस लिया कि सभी लोग जानते है कि दो लोकसभा क्षेत्र पर विजयी हुए थे।वर्ष 2015 में बिहार विधानसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनता दल,कांग्रेस पार्टी से गठबंधन बनाकर सरकार बना ली ,18 माह बाद राष्ट्रीय जनता दल एवं कांग्रेस पार्टी से गठबंधन तोड़कर पुनः भारतीय जनता पार्टी एवं सहयोगी पार्टी मिलाकर सरकार बनाने में सफल हुए।

जनशक्ति पार्टी के एक-एक कार्यकर्ता स्वभिमानी है न टूट सकता है न झुक सकता है

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए कुर्सी प्यारी है ।नितीश कुमार किस नैतिकता और सिद्धांत से बल पर मुख्यमंत्री के कुर्सी पर काबिज है।जब कि भारतीय जनता पार्टी बिहार विधानसभा चुनाव के गठबंधन में सबसे बड़ी पार्टी है।लोक जनशक्ति के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह जमुई के लोकप्रिय युवा सांसद चिराग पासवान के नेतृत्व में बिहार विधानसभा चुनाव मजबूती से लड़ा गया और सम्मान जनक वोट मिला और पहले के वोट प्रतिशत में बढ़ोतरी हुई है।युवा सांसद चिराग पासवान देश के साथ साथ बिहार के राजनीति में लोकप्रिय नेता है।लोक जनशक्ति पार्टी के एक-एक कार्यकर्ता स्वभिमानी है न टूट सकता है न झुक सकता है।

खबरें आस पास के….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *