बिहार इंटरमीडिएट परीक्षा 1 फरवरी से शुरु और 13 फरवरी को समाप्त होगी,पटना जिला में कुल 85 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं

बिहार इंटरमीडिएट परीक्षा 1 फरवरी से शुरु और 13 फरवरी को समाप्त होगी,पटना जिला में कुल 85 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं

पटना-बिहार में होने वाले इंटरमीडिएट परीक्षा के लिए बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं। 1 फरवरी से शुरु होने वाली इंटरमिडिएट की परीक्षा 13 फरवरी तक चलेगी।इस परीक्षा में 38 जिलों में कुल 1,473 परीक्षा केंद्र बनाए जा रहे हैं।दो पालियों में परीक्षा संचालित की जाएगी।इस परीक्षा में 13 लाख 50 हजार 233 विद्यार्थियों ने फॉर्म भरा है,जिसमें 6 लाख 46 हजार 540 छात्राएं और 7 लाख 03 हजार 693 छात्र शामिल होंगे।

पटना जिला में कुल 85 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं

इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा में पटना जिला में कुल 85 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।जिन में सम्मिलित होने के लिए 39 हजार 93 छात्राएं और 41 हजार 789 छात्रों ने फॉर्म भरा है।बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर के अनुसार इंटरमीडिएट परीक्षा 2021 के आयोजन के क्रम में सभी जिलों में 4 मॉडल परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।जहां सिर्फ छात्राएं परीक्षा में सम्मिलित होंगी और इन केंद्रों पर प्रतिनियुक्ति केंद्र अधीक्षक, दंडाधिकारी,वीक्षक सहित सभी पुलिसकर्मी भी महिलाएं ही होंगी।सूचनाओं के त्वरित आदान-प्रदान और उसके निराकरण हेतु बीएसईबी एग्जाम 2021 के नाम से एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया जाएगा जिस में सभी जिला पदाधिकारी,जिला शिक्षा पदाधिकारी के साथ-साथ बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के पदाधिकारी भी जुड़े रहेंगे।

विद्यार्थियों के लिए आवश्यक दिशा निर्देश

देर से आने की स्थिति में उन्हें परीक्षा में शामिल होने की अनुमति नहीं दी जाएगी

विद्यार्थियों को परीक्षा शुरू होने के 10 मिनट पहले परीक्षा केंद्र में प्रवेश कर लेना आवश्यक होगा।देर से आने की स्थिति में उन्हें परीक्षा में शामिल होने की अनुमति नहीं दी जाएगी।परीक्षा केंद्र में केलकुलेटर,मोबाइल फोन,ब्लूटूथ,इयरफोन या अन्य इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स वर्जित किया गया है।ये सभी समान परिक्षा केन्द्र पर साथ में नहीं ले कर जाना है।

परीक्षार्थियों के लिए कोविड-19 को लेकर दिशा निर्देश

कोविड 19 को ध्यान में रखते हुए परीक्षार्थियों को मास्क लगाकर और हाथ में सेनीटाइज कर परीक्षा केंद्र में उपस्थित होने के निर्देश दिए गए हैं।साथ ही विद्यार्थियों को पक्ति वध कराकर परीक्षा केंद्र में प्रवेश कराए जाने की बात कही गई है।परीक्षा केंद्र में प्रवेश करने और निकलने के समय सामाजिक दूरी का पालन करना भी जरूरी होगा।

भारत सरकार,बिहार सरकार के गृह मंत्रालय,स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय, गृह विभाग स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी कोविड-19 से संबंधी दिशानिर्देशों का पालन विद्यार्थी सहित परीक्षा कार्य में संलग्न पदाधिकारियों शिक्षकेतर,गैर शिक्षकेतर कर्मियों को करना अनिवार्य होगा।

खबरें आस पास के….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page
Mantrabrain