बिक्रम,ट्रामा सेंटर को लेकर ट्रामा सेंटर बचाओ संघर्ष समिति के द्वारा सैकड़ों युवकों ने आसपुरा ट्रामा सेंटर से लेकर बिक्रम सहीद चौक तक विरोध मार्च निकाला…

बिक्रम,ट्रामा सेंटर को लेकर ट्रामा सेंटर बचाओ संघर्ष समिति के द्वारा सैकड़ों युवकों ने आसपुरा ट्रामा सेंटर से लेकर बिक्रम सहीद चौक तक विरोध मार्च निकाला…

पटना (बिक्रम) वर्षों से अब तक नहीं शुरू हुए ट्रामा सेंटर को लेकर ट्रामा सेंटर बचाओ संघर्ष समिति के द्वारा सैकड़ों युवकों ने आसपुरा ट्रामा सेंटर से लेकर बिक्रम सहीद चौक तक विरोध मार्च निकाला।बिहार सरकार मुर्दाबाद,ट्रामा सेंटर चालू करो कि नारेबाजी के साथ बिक्रम शहीद चौक पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार,स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाणडेय व स्थानीय सांसद रामकृपाल यादव का पुतला फूंका गया।

अविनाश कुमार के नेतृत्व में यह कार्यक्रम किया गया

वही ट्रामा सेंटर बचाओ संघर्ष समिति के संयोजक अविनाश कुमार के नेतृत्व में यह कार्यक्रम किया गया।जिस में जन अधिकार पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता रवीश कुमार तिवारी,बिहटा के पंचायत समिति सदस्य सह मनेर विधानसभा से पूर्व प्रत्याशी युवा नेता कुश कुमार,उत्तम कुमार,लव कुमार,नंदन कुमार,नितिश यादव समेत सैकड़ों युवक मौजूद रहें।

यह 2002 में ही ट्रामा सेंटर बनकर तैयार हो गया था–रजनीश कुमार तिवारी

वही रजनीश कुमार तिवारी ने यह बताया कि यह 2002 में ही ट्रामा सेंटर बनकर तैयार हो गया था।करोड़ों खर्च के बाद आज तक जस की तस है।अभी तक स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ इस ट्रामा सेंटर से आस पास के क्षेत्र को नहीं मिल रहा है।बिहार सरकार उदासीन रवैया अपनाए हुई है।अब इसका 19 वर्ष बीतने के बावजूद भी इसका कोई सुध नहीं ले रहा है।स्थानीय सांसद एवं बिहार और केंद्र की सरकार को इस से मतलब नहीं है।किसी प्रकार की कोई अप्रिय घटना होती है।तो लोगों को पटना आईजीएमएस,पीएमसीएच रेफर कर दिया जाता है।

जब इसे चालू ही नहीं करना था,तो करोड़ों रुपए खर्च कर के क्यो बनाया गया–रजनीश कुमार तिवारी

लोग रास्ते में ही दम तोड़ देते हैं।क्या इसी दिन के लिए इस को बनाया गया था।जब इसे चालू ही नहीं करना था,तो करोड़ों रुपए खर्च कर के क्यो बनाया गया।मशीनें जंग खा रही है।कितनी मशीनें तो अब तक खराब भी हो चुकी होगी।उन्होंने कहा कि अगर जमीन कम पड़ रहा है तो सिंचाई विभाग का जमीन पड़ा हुआ है।जो अभी कोई उपयोग में नहीं है उसको हस्तांतरित कर सकते हैं।स्वास्थ्य विभाग ट्रामा सेंटर को जल्द से जल्द चालू करें,ताकि इसका लाभ आस पास के नजदीकी गरीब परिवार के लोगों को भी मिल सके।इस को चालू हो जाने से अरवल,औरंगाबाद,जहानाबाद एवं बिहटा,बिक्रम,नौबतपुर, दुल्हिन बाजार,पालीगंज के लोगों को काफी लाभ होगा और काफी जाने भी बचेगी।

सांसद को श्राद्ध और शादी विवाह में ही जाने की फुर्सत है—कुश कुमार

कूश कुमार ने कहा की यहा के सांसद को श्राद्ध और शादी विवाह में ही जाने की फुर्सत है।इन विषयों पर उनका कोई ध्यान नहीं है। क्षेत्र की जनता काफी आक्रोश में है।वह सिर्फ राजनीतिक रोटी सेकते हैं।वर्षों से उदासीन पड़ा हुआ यह ट्रामा सेंटर जर्जर होने के कगार पर आ गया है।चिकित्सीय सुविधाओं के लिए लोग पटना और अन्य जगह जाना पड़ता है।आपात स्थिति में लोगो की जाने चली जाती है।अब बहुत हुआ इंतजार अब इस सरकार को ट्रामा का ड्रामा समाप्त करना होगा,नहीं तो बहुत बड़ा जन आंदोलन जो दिल्ली में किसान सिंघु बॉर्डर और गाजियापुर बॉर्डर पर बैठे हैं।ठीक उसी प्रकार का आंदोलन बिक्रम की धरती से शुरुआत होगी,अगर सरकार नहीं चेतती है।

खबरें आस पास के….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page