पूर्व केन्द्रीय मंत्री स्वर्गीय रामविलास पासवान को केन्द्र सरकार भारत रत्न देने की अनुशंसा करे—- सत्येन्द्र रंजन

अरवल

रत्नेश कुमार

डॉक्टर भीम राव अम्बेडकर संग्रहालय भवन में लोजपा के संस्थापक सह भारत सरकार के पूर्व केन्द्रीय मंत्री स्वर्गीय रामविलास पासवान के प्रथम पुण्यतिथि समारोह उनके तैल चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर धूमधाम से श्रद्धापूर्वक मनाई गई।पुण्यतिथि समारोह के अध्यक्षता अरवल ज़िला लोक जनशक्ति पार्टी ( रामविलास ) के जिलाध्यक्ष सत्येन्द्र रंजन ने किया।पुण्यतिथि समारोह को सम्बोधित करते हुए जिलाध्यक्ष सत्येन्द्र रंजन ने कहा कि पूर्व केन्द्रीय मंत्री स्वर्गीय रामविलास पासवान के ब्यक्तित्व एवं कृतियों को जाति,धर्म और सम्प्रदाय में नहीं बांधा जा सकता है।

स्वर्गीय रामविलास पासवान देश के सर्वमान्य नेता थे ,उनको पक्ष और विपक्ष दोनों समान रूप से पसंद करते थे।स्वर्गीय रामविलास पासवान दलितों गरीबों,शोषितों,पिछड़ों,अल्पसंख्यको,वंचितों एवं समाज के अंतिम ब्यक्ति के सम्पूर्ण विकास के लिए जीवन भर सड़क से लेकर संसद तक संघर्ष करते रहे।स्वर्गीय रामविलास पासवान देश के प्रमुख कदावर नेताओं में से एक थे।

वे भारतीय राजनीति के मजबूत स्तंम्भ थे।पूर्व केन्द्रीय मंत्री स्वर्गीय रामविलास पासवान देश के छह प्रधानमंत्री के नेतृत्व में विभिन्न मंत्रालय जैसे दूरसंचार,रेलवे,कोयला,इस्पात,उर्वरक,खाद्य उपभोक्ता संरक्षण एवं अन्य मंत्रालयों में ईमानदारी पूर्वक अपने कार्यो को निर्वहन करने में सफल रहे।आगे जिलाध्यक्ष सत्येन्द्र रंजन ने पुण्यतिथि समारोह के माध्यम से पूर्व केन्द्रीय मंत्री स्वर्गीय रामविलास पासवान को राजनीतिक कद एवं सामाजिक कद को देखते हुए केन्द्र सरकार भारत रत्न देने की अनुशंसा करे और दिल्ली स्थित 12 जनपद सरकारी बंगले को स्वर्गीय रामविलास पासवान मेमोरियल स्मारक घोषित करे।

पुण्यतिथि समारोह को सम्बोधित करते हुए बिहार लोजपा ( रामविलास ) के वरिष्ठ नेता सह कुर्था विधानसभा क्षेत्र के प्रत्याशी भुनेश्वर पाठक ने कहा कि पूर्व केन्द्रीय मंत्री स्वर्गीय रामविलास पासवान के द्वारा अपने संसदीय जीवन मे भारतीय राजनीतिक को राष्ट्र हित मे किये गये कार्यो के लिए राष्ट्र आज श्रद्धा और सम्मान के साथ याद कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *