पीपा पुल पे अनियंत्रित होकर एक सवारी गाड़ी शुक्रवार को गंगा में समा गई,एक ही परिवार के कई लोग शामिल

पटना (दानापुर)

हादसे में एक ही परिवार के 9 लोगों की मौत हो गई।जब कि ड्राइवर और वैन के ऊपर बैठे 2 लोग तैरकर बाहर निकल गए। शुरू में इस गाड़ी पर 18 लोगों के होने की बात आई थी।लेकिन जिंदा बचे लोगों ने गोताखोरों की मेहनत से निकाली गई 1 लाश और समाई वैन के अंदर मिली 8 लाशों की पहचान करने के बाद बताया कि इतने ही लोग थे।

पीपा पुल के ऊपर से जेसीबी की मदद से सवारि गाड़ी को पानी निकाला गया


इस हादसे में मारे गए सभी लोग आपस में रिश्तेदार थे जो दियारा के अखिलपुर में तिलक समारोह में शामिल होकर दानापुर लौट रहे थे।शादी 26 अप्रैल को होनी थी।बताया जा रहा है कि वैन पीपा पुल से गुजर रही थी।तभी यह हादसा हुआ। स्थानीय लोगों ने नाव के सहारे गाड़ी को निकालने की कोशिश की, लेकिन कामयाब नहीं हुए।प्रशासन ने जेेेेसीबी की मदद से गाड़ी को निकाला। डूबे लोगों की तलाश में SDRF की टीम को लगाया गया था।

स्थानीय तैराक भी तलाशी में जुटे


घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। SDRF की टीम मौके पर पहुंचती इससे पहले ही स्थानीय तैराकों को पानी में डूबे लोगों की तलाश में लगाया गया। SDRF द्वारा निकाली गईं लाशों की पहचान रामाकांत राय (75 वर्ष), अरविंद कुमार (50 वर्ष), गीता देवी (60 वर्ष), सरोज देवी (65 वर्ष), आशीष कुमार (8 वर्ष), अनुराधा देवी (75) के रूप में हुई है।अनुराधा देवी के एक पोते व पोती की भी लाशें बरामद हुई हैं।

सुबह-सुबह हादसे की खबर लगते ही आसपास के गांवों के लोग गंगा के किनारे पहुंच गए और SDRF के साथ
बचाव के काम में जुट गए


बुधवार को चंद्रदेव सिंह के यहां अकिलपुर दियारा में तिलक समारोह था।इसी परिवार का घर दानापुर नासरीगंज में भी है। शादी का कार्यक्रम नासरीगंज से होना तय था। इसी को लेकर सामान के साथ एक दर्जन से ऊपर घर के सगे-संबंधी दानापुर पीपापुल के रास्ते नासरीगंज आ रहे थे।इसी बीच गाड़ी पीपा पुल से अनियंत्रित होकर गंगा नदी में गिर गई।स्थानीय लोगों ने नाव के सहारे गाड़ी को निकालने का भरसक प्रयास किया लेकिन गाड़ी निकालने में नाकामयाब रहे।

एक ही परिवार के कई शामिल

जिस जगह घटना हुई है,वहाँ पर चढ़ाव है।पीपा पुल भी काफी जर्जर हो चुकी है।इस पीपापुल पर आयेदिन सैकड़ों वाहन पार होकर एक जिला से दूसरे जिला जाते हैं।पर लापरवाही पीपापुल निर्माता का है जिस तरह से बनाया गया है।उससे यह लगता है कि यह घटना पीपा पुल का निर्माण गलत तरीके से होने की वजह से हुआ है।पीपा पुल जहां पर चढ़ा होता है वही दलों और फिसलन इतनी है कि हर बार यहां पर गाड़ियां फिसल जाती हैं और यही वजह है कि यहां पर हमेशा दुर्घटनाएं होती है।आज भी रेलिंग तोड़ते हुए यात्रियों से भरा हुआ वैन गंगा नदी में जा गिरा है।इस घटना से आक्रोशित लोग प्रसासन के खिलाफ हंगामा कर रहे हैं।वैन में सवार सभी यात्री अकिलपुर के रहनेवाले भारत सिंह का परिवार बताये जा रहे हैं।घटना के बाद मौके पर पुलिस प्रशासन पहुची और स्थानीय गोताखोर के मदद से लापता हुए लोगो को खोज करने में जुटी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *