पटना में सौतेली मां और सौतेले भाईयों के द्वारा,संपत्ति के लिए दो छोटे मासुम भाईयों कि हत्या कर बोड़े में डाल कर फेंक दी गई…

पटना

पटना में संपत्ति के विवाद में दो छोटे छोटे संगे मासूम भाइयों की हत्या उसके ही सौतेली मां और सौतेले भाइयो ने द्वारा मिलकर कर दी गई है।दोनों की लाशें अलग अलग इलाके में फेंक हुआ मिला।दोनो मासूमो का तीन दिनों पूर्व अपहरण कर लिया गया था।जिस के विरोध में नेउरा ओपी,बिहटा थाना क्षेत्र के शिवाला मोड़ के नजदीक पांडेयपुर के पास पटना- खगौल-बिहटा मुख्य मार्ग को जाम कर जमकर आगजनी और नारेबाजी के साथ बवाल किया गया था।

आपसी सम्पत्ति विवाद में उनके दोनो मासूम बच्चों का अपहरण किया गया

इस प्रदर्शन के दौरान अपहृत बच्चों की माँ ने आरोप लगाया था कि उनके पति विनोद सिंह की पहली पत्नी और दो बेटों ने मिलकर आपसी सम्पत्ति विवाद में उनके दोनो मासूम बच्चों का अपहरण कर लिया गया है। इस के बाद पुलिस टीम ने तीनों आरोपितों को गिरफ़्तार कर जब कड़ाई से पूछ ताछ किया तो सभी डर से टुट गए और अंत में आकर उन्होंने बच्चों की हत्या करने का अपराध स्वीकार कर लिया है।नेउरा थानेदार धर्मेंद्र कुमार ने यह जानकारी दी है कि तीनो गिरफ्तार आरोपितों के निशानदेही पर बिहटा और नेउरा पुलिस ने नौबतपुर के शेखपुरा से दक्षिण सुनसान इलाके से छोटे बच्चे शिवम की लाश बरामद हुई और बड़े बच्चे अनीश की लाश जानीपुर थाना क्षेत्र के पुनपुन नदी बांध किनारे से फेंका हुआ बरामद किया गया है।

लाशें बरामद होने की ख़बर से ग्रामीणों में आक्रोश का माहौल उत्पन्न हो गया

दोनो ही मासुम भाइयों की उम्र 7 साल और पांच साल थी।वहीँ कलेजे के दो टुकड़ों की निर्ममता से हत्या करने और उनकी लाशें बरामद होने की जानकारी मिलते ही तीन दिनो से अन्न त्याग बेटों की बरामदगी की गुहार लगा रही अभागन मां का कलेजा फ़टकर रह गया यह बात को सुनकर।एक साथ दोनों बेटों की हत्या औऱ लाशें बरामद होने की ख़बर से ग्रामीणों में आक्रोश का माहौल उत्पन्न हो गया है।वहीं परिजनो का रो रो कर बुरा हाल हो गया है।मृतक बच्चों की माँ बार-बार बेहोश हो रही है।गांव और आसपास की महिलाएं मां को सम्भालने में खुद ही रोने और बिलखने लग रही है। वहीं पुलिस दोनों शवों के पोस्टमार्टम कराने में जुट गई है।

दोनों पत्नी के बिच संपत्ति विवाद को लेकर यह घटना को अंजाम दिया गया

पटना में दो सगे भाइयों का अपहरण कर उसकी हत्या कर दिए जाने का मामला सामने आया है।मासूम का शव नदी किनारे में पाया है। अपहरणकर्ताओं ने अपहरण के बाद ही उसकी हत्या कर शव को बोरा में डालकर पुनपुन नदी में फेंका दिया था।यह घटना पटना के नेउरा ओपी थाना इलाके की है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।वहीं इस हत्या की खबर आसपास के इलाके में आग कि तरह फैल गई है। दोनों भाई कि हत्या की खबर मिलते ही परिवार में मातम पसर गया है।यह बताया जा रहा है की अपहरणकर्ताओं ने अपहरण के बाद ही उसकी हत्या कर शव को बोरा में डालकर एक को पुनपुन नदी के पास सोन केनाल में फेंक दिया था।दुसरे भाई को जानीपुर थाना क्षेत्र के धराई चक में रोड किनारे फेक दिया गया था।बाद में पुलिस ने दोनों शवों बरामद कर लिया है।पुलिस के मुताबिक़ बिनोद सिंह के द्वारा दो विवाह करने के बाद दोनों पत्नी के बिच संपत्ति विवाद को लेकर यह घटना को अंजाम दिया गया है।पुलिस ने इस हत्या में शामिल बिनोद कुमार की पहली पत्नी सुनीता देवी और उसके दो पुत्र शौरभ कुमार और गुलशन कुमार को गिरफ्तार कर अन्य सहयोगी की तलाश में अब जुटी गई है।

पुलिस ने मामले की तहकीकात शुरू कर दी है

वहीं हत्या की खबर मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया है।इस घटना की सूचना मिलने के बाद ग्रामीणों में गुस्से का बांध टुट गया सभी आरोपी के खिलाफ आक्रोशित दिख रहे है।लाशें बरामद होने के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया है।सूचना पाकर पुलिस भी मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।पुलिस ने मामले की तहकीकात शुरू कर दी है। पुलिस ने इस हत्या मामले में शामिल बिनोद कुमार की पहली पत्नी सुनीता देवी उसके दो पुत्र शौरभ कुमार और गुलशन कुमार को गिरफ्तार कर अन्य सहयोगी की तलाश में जुट गई है। पुलिस अधिकारियों ने दावा किया कि इस वारदात को अंजाम देने वाले अन्य अपराधियों को भी जल्द ही गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेज दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page