नगरपालिका चौक पर ,जयप्रकाश विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफ़ेसर फारूक अली का पुतला दहन किया गया

बिहार (सारण)

दिनांक 23 मार्च 2021 को आरएसए के कार्यकर्ताओं के द्वारा नगरपालिका चौक छपरा में जयप्रकाश विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफ़ेसर फारूक अली का पुतला दहन किया गया।मालूम हो कि जयप्रकाश विश्वविद्यालय के कुलपति पर वित्तीय पावर एवं नीतिगत निर्णय लेने पर राजभवन के द्वारा रोक है। 71 करोड़ 70 लाख के वित्तीय लेन देन में गड़बड़ी को लेकर रोक लगाया गया है।लेकिन जयप्रकाश विश्वविद्यालय के कुलपति आएदिन बैक डेट में कई नीतिगत निर्णय एवं वित्तीय निर्णय ले रहे हैं।

स्नातक प्रथम खंड नामांकन में भारी धांधली की गई है

जिसके एवज में लाखों रुपया का भ्रष्टाचार फिर से किया जा रहा है।कुलपति के पुतला दहन करने के बाद संरक्षक मनीष पाण्डेय मिन्टू ने कहा कि कुलपति को राजभवन के द्वारा जब तक जांच नहीं हो जाता तब तक छुट्टी पर भेज दें।चुकी यह जितना देर यहां रह रहे हैं। इतना देर केवल भ्रष्टाचार के काम बैक डेट में कर रहे हैं। छात्र हितों का कोई कार्य नहीं हो रहा है।स्नातक प्रथम खंड नामांकन में भारी धांधली की गई है।भ्रष्टाचार के नए-नए तरीके अपनाए जा रहे हैं। वहीं संगठन के छात्रों द्वारा आरोप है की कुलपति प्रत्येक विभाग में एक एक दलाल तय कर दिए हैं।जिसके माध्यम से वह पैसा उनके जेब तक जा रहा है।आर एस ए के 15 सूत्रीय मांग को जल्द से जल्द पूरा करें।अन्यथा होली बाद भीषण लड़ाई के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन तैयार रहे।

अन्य मुद्दों को लेकर अनशन कार्यक्रम की तैयारी जोरों शोरों पर है

स्नातक में आरक्षण नीति के पालन नहीं होने के कारण हाई कोर्ट पहले ही जा चुका है।अन्य मुद्दों को लेकर अनशन कार्यक्रम की तैयारी जोरों शोरों पर है।जो होली बाद प्रारंभ की जाएगी। पुतला दहन कार्यक्रम में प्रमुख रूप से उज्ज्वल सिंह, भूषण सिंह,परमेंद्र सिंह, परमजीत सिंह,गुलशन यादव,विकास सिंह सेंगर, विवेक कुमार विजय,छोटू कुमार ,सौरव गोलू,विवेक कुमार गोलू ,बृजेश कुमार, मुन्ना कुमार राउत,अर्पित राज गोलू,अमन प्रताप सिंह,रिशु राज,रूपेश यादव,शिवम सिंहआदि अनेकों कार्यकर्ता कार्यक्रम में उपस्थित थे।

PAWAN KR SINGH

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *