द ब्लू बेल्स इंटरनेशनल स्कूल में दी गई देशरत्न डॉ राजेंद्र प्रसाद को श्रद्धांजलि

पटना (बिक्रम)

देश के पहले राष्ट्रपति रहे भारत रत्न डॉ राजेंद्र प्रसाद की जन्मजयंती पर बिक्रम प्रखंड के अख्तियारपुर गांव स्थित द ब्लू बेल्स इंटरनेशनल स्कूल के बच्चों ने श्रद्धांजलि अर्पित की स्कूल परिसर में आयोजित इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए स्कूल के निदेशक लवकुश शर्मा ने बताया कि राजेंद्र प्रसाद का व्यक्तित्व विद्यार्थी जीवन के लिए बेहद अनुकरणीय हैं।डॉ. राजेन्द्र प्रसाद अपने स्कूल और कॉलेज के दिनों में काफी तेज छात्र माने जाते थे।

उन्हे कलकत्ता विश्विद्यालय की परीक्षा में प्रथम स्थान प्राप्त करने पर हर महीने 30 रुपये की स्कॉलरशिप से पुरस्कृत किया गया था और इसके बाद साल 1902 में उन्होंने प्रसिद्ध कलकत्ता प्रेसिडेंसी कॉलेज में दाखिला ले लिया था। वह इतने बुद्धिमान थे कि एक बार परीक्षा के दौरान कॉपी चेक करने वाले अध्यापक ने उनकी शीट पर लिख दिया था कि ‘परीक्षा देने वाला परीक्षा लेने वाले से ज्यादा बेहतर है’।वही एकेडमिक इंचार्ज ए के सिंह ने बताया की अपने जीवन में डॉ. राजेन्द्र प्रसाद ने परिवार और शिक्षा के लिए बहुत त्याग किया।साल 1905 में गोपाल कृष्ण गोखले ने उन्हें इंडियन सोसायटी से जुड़ने का प्रस्ताव दिया,लेकिन पारिवारिक और पढ़ाई की जिम्मेदारियों के चलते उन्होंने इस प्रस्ताव को विनम्रतापूर्वक ठुकरा दिया था।डॉ. राजेन्द्र प्रसाद ने अपने जीवन के उस वक्त को बेहद तकलीफ देने वाला बताया है और उन्हीं परिस्थितियों के कारण पहली बार उनकी पढ़ाई पर असर पड़ा और हमेशा टॉप करने वाले डॉ. राजेन्द्र प्रसाद लॉ की परीक्षा को सिर्फ पास ही कर पाए थे।

संबोधन के पश्चात बच्चों ने डॉ राजेंद्र प्रसाद के तैल चित्र पर पुष्प अर्पित करके उन्हें श्रद्धांजलि दी।इस मौके पर वीरू सिंह,अमरेश कुमार,उमेश सिंह,रामानुज यादव,रोशन,विपुल,मिंकु,नवनीत,कुंदन द्विवेदी,मांडवी,रिंकल,हेमा,छवि,निकिता,मीता समेत अनेकों लोग उपस्थित रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page