चार दिन पहले हुई थी मुंशी की गोली मारकर हत्या,सभी अपराधी को किया गया गिरफ्तार

बिहार (पटना) पटना में बढ़ते अपराध से लोग काफी परेशान है।यहां अपराधियो का तांडव लगातार जारी है।बढ़ते अपराध से पुलिस प्रसाशन भी काफी परेशान है।इंडिगो एयरलाइंस मैनेजर रूपेश सिंह की हत्या के बाद एक वकील के मुंशी की अपराधियो ने सरेआम गोली मारकर हत्या कर दी।हत्या के बाद पुलिस ने दो लोगों को पकड़ कर पूछताछ कर रही थी।लेकिन जब इस मामले में पुलिस ने गंभीरता से जांच की तो असली मुजरिम पकड़े गए।आज फाइनली इस मामले में पुलिस को सफलता हासिल हुई है।इस हत्याकांड के असली दोषी पकड़े गए।

अपराधियों ने उन्हें अपना शिकार बनाया और गोली मारकर फरार हो गए

बता दे आज दे चार दिन पहले यानी कि बुधवार की सुबह 60 साल के वालेश्वर पाठक को अपराधियों ने दो गोलियां दागीं,बहुत ज्यादा खून बह जाने से मौके पर ही उनकी मौत हो गई।हत्या की यह वारदात पटना के ग्रामीण इलाके जानीपुर में हुई।अपराधियों ने इस वारदात को तब अंजाम दिया।जब वालेश्वर पाठक दानापुर कोर्ट जा रहे थे।वे एक वकील के प्राइवेट मुंशी के रूप में काम करते थे।हर दिन की तरह वे नारायणपुर स्थित अपने घर से तैयार होकर कोर्ट के लिए निकले थे।घर से कुछ दूर आगे जाने के बाद ही पहले से घात लगाए अपराधियों ने उन्हें अपना शिकार बनाया और गोली मारकर फरार हो गए।

नौबतपुर थाना क्षेत्र ईलाके से 3 और लोगो को गिरफ्तार किया गया है

वहीं परिवारवालों के बयान पर पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज किया था।इसमें तीन लोगों को नामजद करने के अलावा चार अज्ञात लोगों का जिक्र था।जिसके बाद पटना के एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने पटना पश्चिमी सिटी एसपी अशोक मिश्रा और फुलवारीशरीफ़ एसडीपीओ के नेतृत्व मे एक टीम का गठन किया था।पुलिस टीम ने अपनी जांच को आगे बढ़ाया और दो लोगों को हिरासत में लिया और पुछताछ आरम्भ किया।इस पूछताछ के क्रम में दोनों बदमाशो ने घटना की जानकारी पुलिस को दी।जिसके बाद उसके निशांदेही पर नौबतपुर थाना क्षेत्र ईलाके से 3 और लोगो को गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस ने पांच दोषी को गिरफ्तार किया….

बता दे सीसीटीवी फुटेज और मोबाइल फोन की जांच की गई।पकड़े गए अपराधी मनीष कुमार से जब कड़ई के साथ पूछताछ किया गया तो उसने इस हत्या में सुपारी दी जाने की बात को स्वीकार किया और उसने बताया कि सुपारी जमीन के विवाद में दी गई थी।सुपारी देने वाले मुन्ना कुमार ने मनीष कुमार को वालेश्वर पाठक की हत्या के लिए दस दिन पहले डेढ़ लाख रुपए में सुपारी दे दिया था।इस मामले में पुलिस ने पांच दोषी को गिरफ्तार किया है।इसके साथ ही हत्या में इस्तेमाल किए गए पिस्टल,पांच जिंदा गोली,मोबाइल और बाइक की बरामदगी की गई है।

खबरें आसपास के…..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *