गिरफ्तार अपराधी ने कबूला,कि उसने रुपेश की हत्या रोडरेज के कारण कर दी थी…

गिरफ्तार अपराधी ने कबूला कि उसने रुपेश की हत्या रोडरेज के कारण कर दी थी

बिहार (पटना) राजधानी पटना से एक बहुत बड़ी खबर सामने आ रही है कि जनवरी महीने में हुए इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रूपेश सिंह हत्याकांड का पटना एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने इस घटना का लगभग आज खुलासा कर दिए है। इस घटना का मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है,उसी से अहम जानकारी मिली है।इस मामले की जांच कर रहे एसआईटी के मुताबिक रुपेश की हत्या रोडरेज के कारण हुई थी।पूरी घटना की जांच की शामिल में एसआईटी के एक अधिकारी ने बताया कि एयरपोर्ट से लौटने के दौरान रूपेश सिंह के साथ रोडरेज की घटना हुई थी।जिसके बाद उनकी हत्या कर दी गई।

शूटर्स ने काफी दिनों तक रूपेश की रेकी भी की थी

पटना एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने इस हाई प्रोफाइल केस का खुलासा आज दोपहर के बाद कर दी है।पटना में रूपेश की हत्या करने से पहले शूटर्स ने काफी दिनों तक रूपेश की रेकी भी की थी।पुलिस सूत्रों के मुताबिक रुपेश के साथ रोड रेज की घटना नवंबर 2020 में बिहार पुलिस का मुख्यालय यानी सरदार पटेल भवन के पास हुई थी। गिरफ्तार अपराधी ने कबूल किया कि उनके गाड़ी से मेरे मोटरसाइकिल में टक्कर हो गई थी।उसके बाद हम दोनो के बिच कहासुनी भी हुआ था।उसके बाद उन्होंने मुझे मारपीट भी किया था।इसी को लेकर मैंने यह सोच लिया कि इस व्यक्ति का हत्या कर देना है।काफी दिनों तक अपार्टमेंट के आसपास रेकी भी किया था।कब यह गाड़ी से आता है और काब यह अपार्टमेंट से बाहर जाता है।अपराधी ने कबूला कि उसके साथ उसके 3 मित्र और थे।जानकारी के अनुसार अभी पटना पुलिस को ये तीनों हाथ नहीं लगे हैं।तीनों को पकड़ने के लिए लगातार छापेमारी की जा रही है।

अपराधी जहानाबाद के आस पास का रहने वाला बताया जा रहा है..

पटना पुलिस ने मामले की जांच,पड़ताल शुरू की तो मामला रोडरेज का निकला।इस घटना के बाद से ही हत्यारे लगातार रूपेश कुमार सिंह की रेकी कर रहे थे और अंततः जनवरी में अपार्टमेंट के पास ही उनकी गोली मारकर हत्या कर दी।पटना में हुई हत्या की इस वारदात ने पूरे प्रदेश को हिलाकर रख दिया था।इस केस की जांच के दौरान एसआईटी, सीआईडी समेत बिहार पुलिस की अलग-अलग टीमों ने 400 से भी अधिक लोगों से पूछताछ की थी। अनगिनत सीसीटीवी कैमरे खंगाले गए।उसके बाद अंत में आकर यह अपराधी पटना में ही गिरफ्तार हुआ।इस हत्याकांड को अंजाम देकर वह चुपचाप झारखंड चला गया था।अपने परिवार वालों के यह जानकारी दिया कि मैं देवघर झारखंड घूमने चला आया हूं।लेकिन वह लगातार पेपर और टीवी से जुड़ा हुआ था,पल-पल का खबर वह देखते रहता था।अंत में उसे ऐसा लगा की वह इस हत्याकांड से बच जाएगा।सभी लोग अलग अलग राह पर जाकर खोजबीन कर रहे हैं।

वह गुस्से में आकर इस घटना को अंजाम दे दिया

एसएसपी के द्वारा लगातार छानबीन और जांच पड़ताल करने के बाद अंत में यह अपराधी पटना से ही गिरफ्तार किया गया।यह अपराधी मोटरसाइकिल चोर था,हर महीने 4 से 5 मोटरसाइकिल चोरी कर बेचा करता था।जानकारी के अनुसार यह अच्छे घर का लड़का है।वह गुस्से में आकर इस घटना को अंजाम दे दिया।उसने यह भी जानकारी दिया कि वो रूपेश कुमार को नहीं जानता था।जब वह पेपर में खबर पढ़ा तो उसे यह जानकारी हुआ कि उसने बहुत बड़ा आदमी की हत्या कर दी।छानबीन में यह भी पता चला है कि इस अपराधी का पहले से पटना के किसी थाने में अपराधिक मामला दर्ज नहीं है।यह पटना जिले के किसी जेल में भी कभी नहीं गया है।बिहार के अन्य जेल में इसकी जांच पड़ताल चल रही है,कि कहीं इसका मामला वहां दर्ज हो या बिहार के किसी और जेल में यह गया हो।पटना एसएसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने यह जानकारी दिया कि हत्या में जो इस्तेमाल किया गया मोटरसाइकिल,रिवाल्वर,चार गोली,अपराधी ने जो कपड़े,जूते और जैकेट पहने थे।साथ में एक झोला में हत्या के बाद कपड़ा बदलने के लिए जो कपड़े लिए थे।ये सभी समान को उसके पटना के किराए वाले मकान के रूम से बरामद कर लिया गया हैं।अपराधी मूल रूप से जहानाबाद जिला के आस पास के गांव का रहने वाला बताया जा रहा है।

पटना के किराए वाले रुम से ही गिरफ्तार कर लिया गया

गिरफ्तार किया गया अपराधी ने कबूल कर लिया है कि इसी ने अपने मित्रों के साथ रूपेश कुमार को उनके अपार्टमेंट के बाहर गोली मार कर फरार हो गया था।हत्या की रात पटना वाले रूम पर ठहरा था और दूसरे दिन झारखंड के लिए निकल गया था।इस अपराधी को पकड़े जाने में इसका मोबाइल भी अहम भूमिका निभाया।यह जो नंबर इस्तेमाल कर रहा था इसी के नाम पर लिया गया था।सिम लेने वक्त का फोटो और सीसीटीवी फुटेज वाला फोटो दोनों को मिलान करने पर मिल गया।इसका सही एड्रेस प्रूफ भी मिल गया,इसके परिवार से भी कुछ जानकारी इसके बारे में प्राप्त किया गया।इस अपराधी को पकड़ने के लिए बराबर इस पर नजर रखा गया।अंत में इसे पटना के किराए वाले रुम से ही गिरफ्तार कर लिया गया।

खबरें आस पास के…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page