गंगा नदी पर 18 पुलों का निर्माण किया जाएगा,अगले 5 वर्षों में इसका निर्माण कार्य पूरा कर लिए जाने की संभावना है

पटना

दक्षिण और उत्‍तर बिहार के बीच कनेक्टिविटी बढ़ाने के लिए प्रदेश की नीतीश सरकार ने बड़ा कदम उठाया है।इसके लिए गंगा नदी पर हर 40 किलोमीटर की दूरी पर एक पुल का निर्माण करने का लक्ष्‍य रखा गया है।

इस तरह गंगा नदी पर 18 पुलों का निर्माण किया जाएगा।अगले 5 वर्षों में इसका निर्माण कार्य पूरा कर लिए जाने की संभावना है।इस प्रोजेक्‍ट के शत प्रतिशत सफल होने पर बरसात के मौसम में भी प्रदेश के उत्‍तरी और दक्षिणी हिस्‍सों में आवागमन सुचारू रह सकेगा। गौरतलब है कि बारिश के मौसम में पूरा उत्‍तरी बिहार बाढ़ की चपेट में रहता है।ऐसे में प्रदेश के इस हिस्‍से में जाना काफी मुश्किल हो जाता है।गंगा नदी पर पुल बनने से इस क्षेत्र में हर मौसम में यातायात सुचारू रह सकेगा।खास कर राहत एवं बचाव कार्य चलाने में स्‍थानीय प्रशासन को काफी सहूलियत होगी।

पहले बिहार में 10 लेन के सिर्फ 4 पुल थे।लेकिन अब प्रदेश सरकार गंगा नदी पर 62 लेन के 18 पुलों का निर्माण कार्य कराएगी।अगले 100 सालों तक के लिए ट्रैफिक प्लान के तहत गांधी सेतु के ठीक बगल में चार लेन के एक नए पुल का निर्माण कार्य जारी है।जिसे वर्ष 2024 तक पूरा करना है।गांधी सेतु के समानांतर बन रहे गंगा ब्रिज के तैयार होने से पटना और से हाजीपुर की कनेक्टिविटी और भी बढ़ जाएगी।बिहाहर के पथ निर्माण मंत्री खुद मौके पर जाकर निर्माण कार्य की समीक्षा कर चुके हैं।

महात्मा गांधी सेतु पर सुपरस्ट्रक्चर बदलने का काम चल रहा है।पश्चिमी लेन का कार्य पूरा हो चुका है और अब पूर्वी लेन का निर्माण कार्य जारी है।बिहार सरकार का दावा है कि मार्च 2022 तक इस काम को पूरा कर लिया जाएगा। गांधी सेतु के दोनों लेन के निर्माण कार्य को पूरा होने पर लोगों को जाम की समस्या नहीं झेलनी होगी।उत्तर बिहार से दक्षिण बिहार को जोड़ने वाला महात्मा गांधी सेतु वर्ष 1983 में बनकर तैयार हुआ था।लेकिन पुल के जर्जर हो जाने के बाद इसके पुराने स्ट्रक्चर को तोड़कर स्टील से नया सुपर स्ट्रक्चर बनाया जा रहा है।फिलहाल पश्चिमी लेन का काम पूरा हो चुका है और पूर्वी लेन का काम जारी है।

महात्मा गांधी सेतु के पुराने स्ट्रक्चर को बदल कर नया स्टील का सुपरस्ट्रक्चर बनाने के साथ-साथ बिहार में गंगा नदी पर 18 नए पुलों का निर्माण किया जा रहा है। गांधी सेतु से ठीक बगल में सिक्स लेन ब्रिज बनाया जा रहा है।गांधी सेतु के 10 किलोमीटर डाउनस्ट्रीम में कच्ची दरगाह बिदुपुर पुल का निर्माण हो रहा है।जेपी सेतु के समानांतर नए पुल बनने का प्रस्ताव है और उसी के 10 किलोमीटर पश्चिम दिघवारा में सिक्स लेन पुल बनाया जाना है। बख्तियारपुर से ताजपुर फोरलेन पुल का निर्माण कार्य जारी है।राजेंद्र सेतु के समानांतर सिक्स लेन ब्रिज बनाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page